Skip to main content
inner banner

आर्थिक आसूचना परिषद (ईआईसी) व ईआइसी से संबंधित तंत्र पर कार्य दल (डब्‍ल्‍यू जीआईए)

आर्थिक आसूचना परिषद (ईआईसी) व ईआइसी से संबंधित तंत्र पर कार्य दल (डब्‍ल्‍यू जीआईए) 

आर्थिक आसूचना परिषद- 

आर्थिक अपराधों और राष्‍ट्रीय सुरक्षा को खतरे के बीच हाल में विकसित संयोजन को देखते हुए सरकार ने वर्ष 1990 में वित्‍त मंत्री की अध्‍यक्षता में आर्थिक आसूचना परिषद (ईआईसी) का गठन किया ताकि आर्थिक अपराधों की रोकथाम में सक्रिय प्रवर्तन एजेंसियों के बीच समन्‍वयन स्‍थापित किया जा सके। ईआईसी का उद्देश्‍य आर्थिक सुरक्षा से संबंधित मामलों पर खुफिया जानकारी एकत्रित करने के माध्‍यम से काले धन की उत्‍तपत्ति और शोधन की रोकथाम करना, अंतर एजेंसी समन्‍वयन प्रदान करना और आर्थिक अपराधों का प्रभावी ढंग से समाधान करना। 

ईआईसी का संगठन निम्नलिखित है: 

  • वित्‍त मंत्री         -    अध्‍यक्ष
  • राज्‍य मंत्री (राजस्‍व)    -    उपाध्‍यक्ष

सदस्‍य:

  • गवर्नर, भारतीय रिजर्व बैंक
  • वित्‍त सचिव/सचिव, आर्थिक कार्य विभाग 
  • गृह सचिव 
  • राजस्‍व सचिव
  • सचिव, कंपनी मामले विभाग
  • सचिव, वित्‍तीय क्षेत्र, आर्थिक कार्य विभाग
  • सचिव, राष्‍ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय 
  • अध्‍यक्ष, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय आयोग 
  • अध्‍यक्ष, केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड
  • अध्‍यक्ष, केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्‍क बोर्ड
  • महानिदेशक, केंद्रीय आर्थिक आसूचना ब्‍यूरो 
  • महानिदेशक, स्‍वापक नियंत्रण ब्‍यूरो 
  • महानिदेशक, राजस्‍व आसूचना महानिदेशालय
  • महानिदेशक, माल एवं सेवा कर आसूचना महानिदेशालय
  • अपर सचिव, राजस्‍व विभाग 
  • निदेशक, प्रवर्तन निदेशालय
  • महानिदेशक, विदेश व्‍यापार महानिदेशालय, वाणिज्‍य मंत्रालय
  • निदेशक, वित्‍तीय आसूचना एकक-भारत
  • महादेशक, राष्‍ट्रीय अन्‍वेषण एजेंसी

विशेष आमंत्रित:

  • सचिव, विदेश मंत्रालय
  • सचिव, रॉ 
  • निदेशक, आसूचना ब्‍यूरो 
  • निदेशक, केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो 
  • महानिदेशक, सीमा सुरक्षा बल

ईआईसी किसी अन्‍य अधिकारी या व्‍यक्ति को भी आमंत्रित कर सकता है यदि इसके उद्देश्‍यों को आगे बढ़ाने के लिए उसकी राय/भागीदारी लाभकारी मानी जाती है ईआईसी की सेवाएं सीईआईबी सचिवालय द्वारा की जाएंगी और महानिदेशक सीईआईबी बतौर ईआईसी के सदस्‍य सचिव कार्य करेंगे।

आसूचना तंत्र का कार्य दल- 

सरकार ने केंद्रीय राजस्‍व सचिव की अध्‍यक्षता में एक स्‍थायी कार्यदल का गठन किया है। आसूचना तंत्र का कार्यदल (डब्‍ल्‍यूजीआईए) ईआईसी के प्रणेता के रूप में कार्य करता है।

डब्‍ल्‍यूजीआईए का निम्‍नलिखित संगठन है: 

  • राजस्‍व सचिव                                   -   अध्‍यक्ष
  • अध्‍यक्ष, सीबीडीटी                            -   सदस्‍य
  • अध्‍यक्ष, सीबीआईसी                         -   सदस्‍य
  • महानिदेश्‍यक, सीईआईबी                 -  सदस्‍य 
  • निदेशक, (प्रवर्तन)                            -   सदस्‍य
  • अपर सचिव (रॉ)                               -   सदस्‍य
  • अपर सचिव (वित्‍तीय क्षेत्र)                 -   सदस्‍य
  • महानिदेशक, डीआरआई                  -   सदस्‍य
  • महानिदेशक, डीजीजीएसटी,             -    सदस्‍य
  • अपर महानिदेशक, सीईआईबी          -    सदस्‍य
  • उप महानिदेशक (प्रवर्तन), एनसीबी   -    सदस्‍य
  • संयुक्‍त सचिव (आईएस), गृह मंत्रालय -    सदस्‍य
  • संयुक्‍त सचिव, कंपनी मामले विभाग    -    सदस्‍य
  • संयुक्‍त निदेशक, आसूचना ब्‍यूरो          -    सदस्‍य
  • संयुक्‍त निदेशक, आर्थिक अपराध प्रकोष्‍ठ-III, केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो         -   सदस्‍य

कार्यदल किसी सदस्‍य को विशेष आमंत्रित के रूप में शामिल कर सकता है यदि आवश्‍यक हो।